हिन्दी साहित्य की रचनाओं का हिन्दी वेब ब्लॉग

Free Search Engine Submission

आओ फिर से दिया जलाएं - अटल बिहारी वाजपेयी

भरी दुपहरी में अधियारा सूरज परछाई से हारा अंतरतम का नेह निचोड़ें - बुझी हुई बाती सुलगाएं आओ फिर से दिया जलाएं हम पड़ाव को समझे मंजिल लक्ष्य हुआ आँखों से ओझल वर्तमान के मोहजाल में- आने वाला कल न भुलाएं आओ फिर से दिया जलाएं आहुति बाकी यज्ञ अधूरा अपनों के विघ्नों ने घेरा अंतिम जय का वज्र बनाने - नव दधीची हड्डियां गलाएं आओ फिर से दिया जलाएं - अटल बिहारी वाजपेयी ( भारत के पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी का जन्म 25 दिसंबर, 1924 को ग्वालियर, मध्य प्रदेश में हुआ था। अटल जी सफल राजनीतिज्ञ के साथ साथ एक कवि भी हैं। "मेरी इक्यावन कविताएँ" उनका प्रसिद्ध काव्यसंग्रह है।)

भरी दुपहरी में अधियारा 
सूरज परछाई से हारा 
अंतरतम का नेह निचोड़ें -
बुझी हुई बाती सुलगाएं 
आओ फिर से दिया जलाएं 


हम पड़ाव को समझे मंजिल 
लक्ष्य हुआ आँखों से ओझल 
वर्तमान के मोहजाल में-
आने वाला कल न भुलाएं 
आओ फिर से दिया जलाएं 

आहुति बाकी यज्ञ अधूरा 
अपनों के विघ्नों ने घेरा 
अंतिम जय का वज्र बनाने -
नव दधीची हड्डियां गलाएं 
आओ फिर से दिया जलाएं 


- अटल बिहारी वाजपेयी

अटल बिहारी वाजपेयी 
( भारत के पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी का जन्म 25 दिसंबर, सन् 1924 ई. को ग्वालियर, मध्य प्रदेश में हुआ था। अटल जी सफल राजनीतिज्ञ के साथ साथ एक कवि भी हैं। "मेरी इक्यावन कविताएँ" उनका प्रसिद्ध काव्यसंग्रह है।)

एक टिप्पणी भेजें

बनारसी साड़ियाँ खरीदें केवल - Laethnic.com/sarees

योगदानकर्ता

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget